akhbar jagat

मजदूरों को दिए गए बिना काम करे पैसे

मजदूरों को दिए गए बिना काम करे पैसे

अख़बार जगत।  एक तरफ जहाँ कोरोना वायरस ने विदेशो के बाद अब भारत में भी अपने पैर पसार लिए है । भारत में भी इस समय हर लगभग हर जिले को लॉक डाउन करा गया है जिससे यह सक्रमण किसीको ना हो और आगे ना फैले लॉक डाउन के कारन सबसे ज्यादा परेशान इस वक़्त वह मजदुर हो रहे है जो रोज काम कर के पैसे कमाते थे ऐसे में कई कई पर कुछ  लोग  उनकी मदद के लिए आगे आरहे है और ऐसा ही कुछ देखने को मिला भीकूपुरा गांव पर जहा  किसान भगवान पटेल ने एक पहल की है। रविवार काे जनता कर्फ्यू के चलते मजदूरी पर नहीं जाने के बावजूद किसान ने 25 मजदूराें काे 5000 रुपए की मजदूरी दी। किसान के इस कार्य की सराहना की जा रही है। 
भीकूपुरा के किसान भगवान पटेल के यहां सब्जी तुड़ाई का कार्य चल रहा है। किसान के यहां राेजाना 25 मजदूर सब्जी ताेड़ने जाते हैं, लेकिन रविवार काे जनता कर्फ्यू के चलते नहीं गए। साेमवार काे सभी मजदूर किसान के यहां पहुंचे ताे उन्हाेंने सभी मजदूराें काे 200 रुपए के हिसाब से प्रत्येक मजदूर काे मजदूरी दी।

किसान ने बताया प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए संदेश को ध्यान में रखते हुए अपने यहां कार्य कर रहे मजदूराें काे मजदूरी वितरित की गई है। इधर मजदूर बबलू, प्रदीप, कलावती, राधेश्याम अादि ने बताया कि यह एक अच्छी पहल है। हमें बिना मजदूरी के भी पैसे मिलेंगे ऐसा हमने सपने में भी नहीं सोचा था।

    Tags :
    Web Title : Work without giving money to laborers