akhbar jagat

सदस्यता ग्रहण करने में देरी क्यों ?

सदस्यता ग्रहण करने में देरी क्यों ?

अख़बार जगत। इन दिनों मध्य प्रदेश की सियासत पर पूरे देश की नज़र है। कमलनाथ सरकार पर सियासी संकट लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कांग्रेस का बड़ा चेहरा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना इस्तीफा दे दिया है और उन्ही के साथ उनके 23 विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया है। इस बीच अब खबर है कि दोपहर 2
 बजे ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा की सदस्यता ले सकते हैं।

इसी क्रम में मध्य प्रदेश में कांग्रेस अपनी सरकार बचाने की पूरी तरह से कवायद कर रही है। भोपाल में मुख्यमंत्री आवास से तीन बसें कांग्रेस विधायकों को एयरपोर्ट ले गयी। जहां से उन लोगों को राजस्थान के जयपुर ले जाया गया।

इस पूरे विषय में मुख्यमंत्री कमलनाथ की ओर से दावा किया जा रहा है कि फ्लोर टेस्ट में वो अभी भी बहुमत हासिल कर लेंगे। उनका कहना है कि भाजपा के कुछ विधायक उनके संपर्क में हैं। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में विधायकों के इस्तीफे के बाद विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा भी गिरकर 104 पहुंच गया है।

कांग्रेस की संख्या 114 से 92 हो गई है। हालांकि, मंगलवार शाम कमलनाथ की बैठक में कांग्रेस के 92 की बजाय 88 विधायक ही पहुंचे। लेकिन अब तक एसपी-बीएसपी और निर्दलीयों की मदद से कांग्रेस के पास 99 विधायकों का समर्थन हासिल है। हाल फिलहाल सभी को इंतज़ार है 2 बजे का जब हमें यह पता चलेगा कि क्या ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगे या नहीं ? और उसके बाद प्रदेश की राजनीती क्या मोड़ लेती है ?

 

    Tags :
    Web Title : Why delay in subscribing?