akhbar jagat

परेश रावल का आज 64 वां जन्मदिन

परेश रावल का आज 64 वां जन्मदिन

अख़बार जगत । बॉलीवुड अभिनेता (Actor) और पॉलिटिशियन (Politician) परेश रावल (Paresh Rawal) आज अपना 64 वां जन्मदिन (Birthday) मना रहे हैं। इंडस्ट्री में एक अलग पहचान रखने वाले परेश अक्सर अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में बने रहते हैं। पहले परेश एक विलेन के रूप में अपनी पहचान बनाने वाले थे लेकिन फिल्म ‘हेराफेरी’ की सफलता के बाद परेश ने महसूस किया कि वे विलेन की बजाय कॉमेड़ियन के रूप में ज्यादा सफल रहेंगे। आपको बता दें कि परेश रावल अहमदाबाद पूर्व, गुजरात से वर्तमान में सांसद हैं और कई मसलों पर बेबाकी से अपनी बात रखते नज़र आते हैं। आज उनके जन्मदिन के अवसर पर जानें उनके लाइफ से जुड़ी खास बातें...

परेश रावल ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरूआत साल 1984 में फ़िल्म 'होली' से की थी। यह आमिर ख़ान की भी डेब्यू फ़िल्म है। बहरहाल परेश रावल को पहचान मिली 1986 में आयी फ़िल्म 'नाम' से। इसके बाद वह 1980 से 1990 के बीच 100 से भी अधिक फ़िल्मों में विलेन की भूमिका में नजर आए। जिनमें कब्जा, किंग अंकल, राम लखन, दौड़, बाज़ी से लेकर दिलवाले तक एक से बढ़कर एक शानदार फ़िल्में शामिल हैं। इन दिनों लेखिका अरुंधति राय पर किये गए अपने ट्वीट को लेकर विवादों में चल रहे परेश रावल को फ़िल्मों में खलनायकी से पहचान मिली थी। बाद में उन्होंने कॉमेडी से सबके दिलों में राह बनायीं और उसके बाद पॉलिटिक्स में हाथ आजमाने के लिए कूद पड़े। इसके बाद परेश रावल ने भारतीय जनता पार्टी में शामिल होकर साल 2014 में अहमदाबाद पूर्व से लोकसभा का चुनाव जीता।

इसके बाद तो उनकी एक से बढ़कर एक फिल्में आईं जिसमें उन्होंने कॉमेडियन का किरदार निभाया। 'आवारा पागल दीवाना', 'हंगामा', 'फंटूश', 'गरम मसाला', 'दीवाने हुये पागल', 'मालामाल वीकली', 'भागमभाग', 'वेलकम' और 'अतिथि तुम कब जाओगे' जैसी फिल्में इसी लिस्ट में शामिल हैं। वैसे परेश रावल को सही पहचान फिल्म ‘नाम’ से मिली थी। परेश ने इस फिल्म में खलनायक की भूमिका निभाई थी। इस फिल्म की सफलता ने उन्हें बॉलीवुड में खलनायक के तौर पर स्थापित कर दिया था।

परेश ने बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरूप संपत से शादी की। स्वरूप मशहूर पूर्व मिस इंडिया रह चुकी हैं, उन्होंने साल 1979 में मिस इंडिया का खिताब जीता था। स्वरूप कॉमेडी सीरियल ये जो है जिंदगी के लिए जानी जाती हैं। स्वरूप संपत कमल हासन और रीना रॉय की फिल्म करिश्मा में भी नजर आईं थीं। इसके अलावा वो फिल्म हिम्मतवाला, साथिया, लोरी, की एंड का और उरी: द सर्जिकल स्ट्राइक में भी नजर आईं। दोनों की मुलाकात अपने थियेटर से प्यार के चलते हुई थी। दोनों पहली बार साल 1975 में मिले थे, उस समय दोनों कॉलेज में पढ़ाई करते थे। खबरों की मानें तो परेश ने स्वरूप को देखते ही अपने दोस्त को कहा था कि वो इस लड़की से शादी करेंगे। एक इंटरव्यू में स्वरूप ने बताया था कि उन्हें देखने के बाद परेश ने एक साल तक उनसे बात तक नहीं की थी।

परेश रावल अब तक तीन बार फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित किये जा चुके है। साल 1993 में आई फिल्म 'सर' के लिये सबसे पहले उन्हें सर्वश्रेष्ठ खलनायक का फिल्म फेयर पुरस्कार मिला। इसके बाद 2000 में फिल्म 'हेराफेरी' और 2002 में फिल्म 'आवारा पागल दीवाना' के लिये भी उन्हें सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया। परेश रावल को उनके उल्लेखनीय योगदान के लिये पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया।