akhbar jagat

CAA के समर्थन में जबलपुर पहुंचे अमित शाह

CAA के समर्थन में जबलपुर पहुंचे अमित शाह

अख़बार जगत। देश भर में CAA को लेकर विरोध तो चल ही रहा है ,लेकिन वहीँ बहुत से लोग CAA के समर्थन में भी रैलियां निकल रहें है। रविवार को इंदौर में CAA के समर्थन में झंडा लेकर महासभा बिठाई गयी। और रविवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह  नागरिकता कानून (सीएए) पर देश में चौथी सभा को संबोधित करने जबलपुर पहुंचे। यहां शाह ने कहा- जेएनयू में कुछ लड़कों ने भारत विरोधी नारे लगाए कि 'भारत तेरे टुकड़े हों एक हजार, इंशाअल्लाह, इंशाअल्लाह'। उनको जेल में डालना चाहिए या नहीं। जो भी देश विरोधी नारे लगाएगा, वह जेल में होगा। 10 जनवरी को देश में सीएए लागू होने का नोटिफिकेशन जारी होने के बाद शाह की यह पहली सभा है।

शाह ने आगे कहा, ‘‘केजरीवाल जैसे नेता 'भारत तेरे टुकड़े होंगे' जैसे नारे लगाने वालों को बचाने की बात करते हैं, लेकिन हम ऐसा नहीं होने देंगे। कश्मीर के मुद्दे पर सबूत मांगे जाते हैं। जब हमने सर्जिकल स्ट्राइक की तो केजरीवाल ममता और राहुल ने हमसे सबूत मांगे। अब यही लोगों को बरगलाने का प्रयास कर रहे हैं।’’

सभा में अमित शाह ने सीएए के समर्थन में नारे लगाते हुए कहा कि राहुल बाबा विदेश गए हैं, इतनी कम आवाज उन तक कैसे पहुंचेगी। नारा ऐसा लगाओ कि आवाज ममता बनर्जी तक पहुंचे। मैं राहुल गांधी और ममता बनर्जी को चैलेंज देता हूं- वे ये बताएं कि इस बिल में कहां नागरिकता छिनने का जिक्र है। बंगाल में ममता वोट की खातिर राजनीति कर रही हैं। ये केजरीवाल और ममता बनर्जी कितनी झूठी हैं- हम जनता को बता रहे हैं। कांग्रेस ने देश की जनता को उकसा कर दंगा करा दिया।
शाह ने राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा और ममता बनर्जी पर सीएए के मुद्दे पर लोगों को गुमराह करने का आरोप लगाया। शाह ने कहा, महात्मा गांधी ने कहा था कि जो हिंदू पाकिस्तान में रह गए हैं, वे जब चाहे भारत आ सकते हैं। यही बात जवाहर लाल नेहरू ने भी कही थी। आज हमने कानून बनाया, तो राहुल, सोनिया समेत पूरा विपक्ष हमारा विरोध कर रहा है।

इससे पहले शाह को काले झंडे दिखाने की कोशिश में पुलिस ने युवा कांग्रेस के 24 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। ये सभी सीएए और एनआरसी के विरोध में तख्तियां लिए हुए थे। आरोप है कि ये लोग अनुमति नहीं होने के बावजूद प्रदर्शन करने पर आमादा थे। सभा स्थल गैरीसन मैदान में 1947 में पाकिस्तान से आए सिख समुदाय के लोगों ने अमित शाह का स्वागत किया।

    Web Title : Amit Shah arrives in Jabalpur in support of CAA