akhbar jagat

मरीज की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल पर पत्थर फेंके और की तोड़फोड़

मरीज की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल पर पत्थर फेंके और की तोड़फोड़

अख़बार जगत। भवरकुआं  स्थित दशमेश हॉस्पिटल में सोमवार सुबह एक मरीजों की मौत के बाद परिजनों ने जमकर तोड़फोड़ की। हादसे में गंभीर घायल होने के बाद युवक को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। परिजनों का आरोप है कि नर्स द्वारा इंजेक्शन लगाने के बाद घायल की मौत हुई है। तोड़फोड़ की जानकारी मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची।

जानकारी के अनुसार रात करीब डेढ़ बजे के आसपास गोकुल डिवाइडर से टकराने के कारण हादसे का शिकार हो गया था। गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। परिजन संजय ने बताया कि गोपाल को इंजेक्शन लगना था। मैं रात को अस्पताल में ही था। उसी समय नर्स आई और उन्होंने इंजेक्शन लगाया। उस समय डॉक्टर सो रहे थे। नर्स ने उनको भी बुलवाया। कुछ ही देर में घायल ने दम तोड़ दिया।

परिजनों ने नर्स पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए सुबह अस्पताल में हंगामा कर दिया। गुस्साए परिजनों को जो मिला उसी से तोड़फोड़ की। इस दौरान उन्होंने पत्थर भी फेंके।  उधर, हंगामा और तोड़फोड़ की सूचना के बाद भंवरकुआ थाना पुलिस भी मौके पर पहुंची। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रात 3 बजे गोकुल को भर्ती करवाया गया था। डिवाइडर से टकराने के कारण वह घायल हो गया था। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। परिजन लापरवाही का आरोप लगा रहे हैं। पंचनामा बनाकर शव को पीएम के लिए भिजवाया गया है।

    Web Title : After the death of the patient, the family threw stones at the hospital and vandalized